ब्रेकिंग न्यूज़

डुमरा पंचायत के परोरहा गाँव में बारिश से बाढ़ विकराल, गाँव में तबाही, 5 हजार आबादी बाढ़ से प्रभावित

डुमरा पंचायत के परोरहा गाँव में बारिश से बाढ़ विकराल, गाँव में तबाही, 5 हजार आबादी बाढ़ से प्रभावित

Gorakhpur Express News


बिहार में लगातार रुक-रुककर हो रही बारिश ने लोगों की परेशानी बढ़ा दी है। खासकर बाढ़ प्रभावित इलाके ग्रामवासि भोजन के लिए दोहरी मुसीबत झेलने को विवश हैं। लौरिया प्रखंड के परोरहा गाँव में गंडक का जलस्तर में गिरावट से नये इलाके में बाढ़ के पानी का फैलाव रुक गया है। वाल्मीकिनगर बराज से भी गंडक नदी में मात्र 1.19 लाख क्यूसेक पानी छोड़ा गया। पश्चिमी चम्पारण में बूढ़ी गंडक (सिकरहना) का पानी भी परोरहा गाँव में तबाही मचा रहा है।

गोरखपुर विश्वविद्यालय के छात्रनेता सुशान्त शर्मा ने कहा कि परोरहा गाँव में बाढ़ के कारण लोगों की परेशानी बढ़ती ही जा रही है। प्रशासन की ओर से कोई राहत सामग्री उपलब्ध नहीं करायी गई है। इन गांवों में करीब 5 हजार आबादी बाढ़ की चपेट में है। प्रशासन की ओर से नाव की व्यवस्था नहीं किए जाने से लोगों की मुश्किलें और बढ़ गई है। लोग जान जोखिम में डालकर बाढ़ के पानी से निकल रहे हैं। गाँव मे रह रहे सभी ग्रामवासियों को भोजन की बड़ी समस्या है। मवेशियों के लिए भी चारा नहीं मिल रहा है। गाँव से लौरिया -नरकटियागंज सड़क पर आवागमन अब भी सामान्य नहीं हो सका है।
आक्रोशित ग्रामीणों नेबताया की परोराहा डुमरा मुख्य मार्ग पर बाढ के पानी ने सड़क को तीन चार जगह काट दिया है साथ ही इस मार्ग में पुल भी टुट जाने से संपर्क कट गया है लोगों की परेशानी बढ़ गई है ग्रामीण छोटु शर्मा, हरचंद यादव, सुकट यादव, दिनेश यादव, राघव यादव, किशोर यादव, देवव्रत शर्मा, रवीन्द्र शर्मा आदि ने प्रशासनिक उदासीनता बताया तथा कहा की सरकार के द्वारा अब तक कोई आवागमन की साधन उपलब्ध नहीं हो सका है जिससे परेशानी बढ़ गईहै।वहीं लोगों ने टुटी सड़क के निर्माण कराने की मांग की है ग्रामीणों ने कहा कि अगर ऐसा ही रह तो उग्र आंदोलन को बाध्य होंगे ।

Related Articles

Back to top button
Close