रत्नाकर कुमार की संघर्ष का जलवा फ़िल्म अवार्ड में, सर्वश्रेष्ठ श्रेणी का अवार्ड संघर्ष के नाम

Gorakhpur Express News

भोजपुरी सिनेमा को नई दिशा देने में अग्रसर फिल्म मेकर रत्नाकर कुमार द्वारा निर्मित व सुपरस्टार खेसारी लाल यादव स्टारर भोजपुरी फ़िल्म संघर्ष को सर्वश्रेष्ठ श्रेणी में कई अवार्ड भोजपुरी सिनेमा स्क्रीन एंड स्टेज अवॉर्ड्स 2019 में देकर सम्मानित किया गया। अभिनेता विकास सिंह वीरप्पन द्वारा कलकत्ता में आयोजित इस अवार्ड शो में पिछले वर्ष 2018 में प्रदर्शित की गई ब्लॉकबस्टर फिल्म संघर्ष को सर्वश्रेष्ठ यानी बेस्ट फिल्म का अवॉर्ड मिला। इसके साथ ही बेस्‍ट एक्‍टर – खेसारीलाल यादव (संघर्ष), क्रिटिक्‍स बेस्‍ट एक्‍ट्रेस – काजल राघवानी (संघर्ष), बेस्‍ट डायरेक्‍टर – पराग पाटिल (संघर्ष), बेस्‍ट स्‍टोरी एंड स्‍क्रीनप्‍ले राईटर – राकेश त्रिपाठी (संघर्ष) तथा बेस्‍ट म्‍यूजिक कंपनी – वर्ल्‍डवाइड रिकार्ड्स को अवार्ड देकर सम्मानित किया गया है। एक साथ इतनी सारी बेस्ट कैटेगरी का अवार्ड मिलना वाकई बहुत बड़ी बात है और भोजपुरी सिनेमा के अच्छे दिन आने की बयार है। यह दूसरी बार है जब संपूर्ण पारिवारिक एवं बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान को समर्थन करने वाली भोजपुरी फिल्म संघर्ष को सर्वश्रेष्ठ श्रेणी का अवार्ड देकर सम्मानित किया गया। इसके पहले सबरंग भोजपुरी फिल्म अवार्ड में रत्नाकर कुमार की म्यूजिक कंपनी वर्ल्डवाइड रिकार्ड्स सहित उनकी फ़िल्म संघर्ष को बारह अवार्ड दिया गया था। इससे यह साबित होता है कि बेहतरीन और संपूर्ण पारिवारिक भोजपुरी फिल्म का निर्माण उम्दा पैमाने पर किया जाय तो सिनेमाघरों में दर्शकों की तादाद में इजाफा तो होगा ही साथ ही साथ भोजपुरी सिनेमा के दशा और दिशा में बदलाव अवश्य आएगा।  क्योंकि जब लीक से हटकर बनी एक फिल्म हिट होती है तो उसी ढर्रे पर और भी फिल्मों के निर्माण का मार्ग प्रशस्त हो जाता है। भोजपुरी सिनेमा के प्रति तन, मन, धन से समर्पित रत्नाकर कुमार ने एक सवाल के जवाब में बताया कि मैं भोजपुरी माटी से ताल्लुकात रखता हूं तो मेरा परम कर्तव्य बनता है कि मैं अपनी मातृ भाषा और भोजपुरी सिनेमा व समाज के लिए बेहतरीन करूं। इसीलिए मैं अपनी कंपनी के जरिये हमेशा बेस्ट से बेस्ट करने  का भरसक प्रयत्न करता रहूंगा। रही बात इतना सारा बेस्ट कैटेगरी का अवार्ड मिलने की तो यह सब दर्शकों और फिल्म इंडस्ट्री के प्यार का असर है। अवार्ड मिलने से और अच्छा वर्क करने का प्रोत्साहन मिलता है और पूरी टीम में ऊर्जा का संचार होता है। मैं आगे भी इसी तरह और भी बेहतरीन फिल्मों का निर्माण का प्रोमोशन करता रहूंगा।