अपराधताजा ख़बरेंब्रेकिंग न्यूज़

खबर का असर – नौकरी खतरे में देख सेक्रेटरी ने आनन फानन में प्रीति को पंचायत सहायक में किया चयन

आनंद कुमार गुप्ता ब्यूरो चीफ महाराजगंज गोरखपुर एक्सप्रेस न्यूज़

महराजगंज

पंचायत सहायक भर्ती का फर्जी मार्कशीट लगवा कर चयन करने का ग्राम विकास अधिकारी पर आरोप लगा था
जिसका खबर गोरखपुर एक्सप्रेस न्यूज़ ने प्रमुखता से प्रकाशित किया था जिसके बाद ब्लॉक के कर्मचारियों में हड़कंप मच गया। ग्राम विकास अधिकारी राजकुमार भारती ने अपनी नौकरी ख़तरे में देख आनन-फानन में प्रीति भारती को चयन किया ।

जबकि वही फर्जी मार्कशीट लगाकर चयन हुए उसके ऊपर अब क्या शासन प्रशासन कोई कार्यवाही करेगी या कर्मचारियों का मनोबल को बड़वा देगी । ऐसे में सवाल उठना लाजमी है कि जब ग्राम विकास अधिकारी या जिले के अधिकारियों पर क्या विश्वास रहेगी की भ्रष्टाचार किया जा रहा है अगर इसकी पूरे ब्लॉक की जांच की जाए तो ऐसे कई लड़के और लड़कियां जो पात्र हैं वह फर्जी नियुक्ति का शिकार हो चुके हैं उनको भी न्याय मिल जाएगा ।

क्या शासन-प्रशासन ऐसे भ्रष्ट कर्मचारियों पर कोई लगाम लगाती है या इसी तरह फर्जी नियुक्ति कर होनहारों को बेरोजगारी की कुएं में धकेल ते रहेंगे। आपको बता दें कि निचलौल ब्लाक अंतर्गत ग्राम सभा सोहट में पंचायत सहायक का नियुक्ति होना था जिसमें ग्राम विकास अधिकारी द्वारा फर्जी मार्कशीट लगवाकर अपात्र को चयन कर दिया गया था।

जिसकी शिकायती पत्र प्रीति भारती ने डीएम को देकर जांच कराकर कार्रवाई की मांग किया था जिसमें फर्जी मार्कशीट लगाकर चयन होने वाले को जब अधिकारियों ने वेरिफिकेशन के लिए बुलाया तो वह अपना घर छोड़कर फरार हो गए ऐसे में सवाल उठता है जो मौके के सत्यापन अधिकारी थे क्या उनकी मिलीभगत थी या उनकी आंखों में धूल झोंक दिया गया था अब प्रशासन दोषियों पर क्या कार्रवाई करती है या भ्रष्टाचारियों का मनोबल बढ़ाती है

Tags

Related Articles

Back to top button
Close